ATM Card क्लोनिंग क्या है ? इससे कैसे बचे ?

ATM Card क्लोनिंग क्या है

ATM Card क्लोनिंग क्या है ? इससे कैसे बचे ? – नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी? उम्मीद है कि आप सभी स्वस्थ होंगे।  मैं एक बार फिर से आप सभी का स्वागत करता हूं हमारे इस बिल्कुल नए आर्टिकल पर। दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय पर जानकारी देने जा रहे हैं। आज इस आर्टिकल में हम आपको कार्ड क्लोनिंग के बारे में बताएंगे। साथ में हम आपको यह भी बताएंगे कि एटीएम कार्ड क्लोनिंग के क्या नुकसान है और एटीएम कार्ड क्लोनिंग से कैसे बचें?  दोस्तों अगर आप भी एटीएम कार्ड क्लोनिंग के बारे में जानना चाहते हैं और खुद को इस से बचाना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आखिरी तक पूरा पढ़िए। इस आर्टिकल में आपको एटीएम कार्ड क्लोनिंग से संबंधित संपूर्ण जानकारी दी गई है।

 गूगल ने लॉन्च किया नया WifiNanScan एप्लीकेशन  जानिए क्या है फीचर्स

दोस्तों वर्तमान समय में आपको सभी के पास एटीएम कार्ड देखने को मिल जाएगा। जब भी हम कहीं इमरजेंसी में फंसे होते हैं और हमें पैसों की जरूरत होती है हम तुरंत नजदीकी किसी भी एटीएम में जाते हैं और वहां पर अपना एटीएम कार्ड स्वाइप करके पैसे निकाल लेते हैं। यह एक बहुत ही आसान सा तरीका है किसी भी इमरजेंसी में कैश की समस्या से बचने का । आज से कुछ वर्षों पहले जब टेक्नोलॉजी इतनी ज्यादा डिवेलप नहीं थी तब लोगों को अपने साथ अपनी जेब में ढेर सारे पैसे लेकर चलना पड़ता था ताकि इमरजेंसी में उन्हें कोई प्रॉब्लम ना हो। इस प्रकार जेब में पैसे लेकर चलने से अनेक समस्याएं होती थी पैसे चोरी हो जाते थे खो जाते थे गिर जाते थे। लेकिन जब से एटीएम कार्ड सुविधा चालू हो तब से लोगों को जेब में ज्यादा पैसे लेकर नहीं चलना पड़ता।

ATM Card क्लोनिंग क्या है

ऊपर का article पढ़कर आप सभी सोच रहे होंगे कि एटीएम तो बहुत अच्छी चीज है और हम सभी को एटीएम का इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन दोस्तों अभी तक हमने आपको जो बताया वह सिक्के का पहला पहलू है। सिक्के का दूसरा पहलू यह है कि एटीएम हमारे लिए जितना ज्यादा लाभदायक है उतना ही नुकसानदायक है। यदि आप टेलीविजन पर न्यूज़ देखते हैं फिर अखबार पढ़ते हैं तो हमें यकीन है कि प्रतिदिन आपको पढ़ने को मिलता होगा कि साइबर ठगों ने एटीएम से कैश चुराया।

जी हां दोस्तों आज ऑनलाइन साइबर क्राइम इतना अधिक हो चुका है कि कोई भी व्यक्ति सिर्फ 2 मिनट में ही आपका पूरा अकाउंट खाली कर सकता है। और सबसे हैरानी की बात यह है कि आपको पता भी नहीं चलेगा कि आपके अकाउंट से पैसे निकाल लिए गए हैं। और जब तक आप को पता चलेगा तब तक बहुत देर हो चुकी होगी। फिर आपके पास पछताने के सिवा कोई और रास्ता नहीं बचेगा।

ATM Card क्लोनिंग क्या है

ऊपर अभी तक हमने आपको जो भी बताया यह सब एटीएम कार्ड क्लोनिंग के अंतर्गत आता है। यदि आप एटीएम कार्ड क्लोनिंग बारे में नहीं जानते तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि एटीएम कार्ड क्लोनिंग क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड की इनफार्मेशन निकालने का एक तरीका है।

एटीएम कार्ड क्लोनिंग के अंतर्गत विभिन्न साइबर ठगों आपके एटीएम कार्ड के इनफार्मेशन चोरी करके आपके एटीएम जैसा ही एक डुप्लीकेट एटीएम कार्ड बनाते हैं और उसकी मदद से आपके अकाउंट से पैसे निकालते हैं। वर्तमान समय में एटीएम क्लोनिंग की समस्या बहुत अधिक देखी गई है। यह प्रतिदिन ही किसी ना किसी के साथ हो रही है। ऐसी सिचुएशन में खुद को एटीएम कार्ड क्लोनिंग से बचाना और अपने अकाउंट को सुरक्षित रखना बहुत ही मुश्किल काम है।

ATM क्लोनिंग कैसे होती है ?

दोस्तों आप सभी सोच रहे होंगे कि जब तक हमारा एटीएम कार्ड मशीन के अंदर नहीं इंसर्ट होता है और हम अपना पासवर्ड किसी को नहीं बताते हैं तो आखिर कोई हमारा डुप्लीकेट एटीएम कार्ड कैसे बनवा सकता है। तो दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि यह टेक्नोलॉजी का दौर है और इस दौर में हर असंभव काम संभव है। एटीएम क्लोनिंग के लिए जरूरी नहीं है कि आप अपना एटीएम पासवर्ड किसी के साथ शेयर करें तभी वह एटीएम क्लोनिंग कर पाए। बिना इसके भी एटीएम क्लोनिंग की जा सकती है।

एटीएम क्लोनिंग करने के लिए अलग-अलग हैकर एटीएम के अंदर अलग-अलग एंगल पर कैमरा सेट कर देते हैं। और उस डायल पैड पर जिस डायल पैड में आप अपना पासवर्ड दर्ज करते हैं वहां पर एक लेयर बिछा देते हैं। यह लेयर आपके द्वारा दर्ज किए गए पासवर्ड को देख लेती है। साइड में कैमरे लगे होते हैं यह भी आपके पासवर्ड को देख लेते हैं।

एटीएम कार्ड के पर्सनल डिटेल चेक करने के लिए लोग उस स्थान पर जहां पर आप अपना एटीएम इंसर्ट करते हैं एक रीडर लगा देते हैं यह रीडर आपके द्वारा इंसर्ट किए गए एटीएम कार्ड की डिटेल को रीड कर लेता है और उसे स्टोर कर लेता है। बाद में हैकर इस कैमरे की मदद से और रीडर की मदद से आपकी एटीएम कार्ड की डिटेल देख लेते हैं और एक नया एटीएम कार्ड अप्लाई कर देते हैं। और उस एटीएम कार्ड की सहायता से आपके अकाउंट से पैसे निकाल लेते हैं।

ATM क्लोनिंग से कैसे बचे हैं ?

दोस्तों अगर आप ऊपर की जानकारी को पढ़कर परेशान है और आपके मन में चिंता है कि कहीं और भी एटीएम कार्ड क्लोनिंग के शिकार ना हो जाए तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि यदि आप थोड़ी सी भी सावधानी अपनाएंगे तो आप एटीएम क्लोनिंग से बच सकते हैं। नीचे हम आपको कुछ विशेष टिप्स दे रहे हैं। जब भी आप एटीएम से पैसे निकालने जाएं तो इन टिप्स को फॉलो करें। इन टिप्स को फॉलो करने से आप एटीएम क्लोनिंग के शिकार होने से बच जाएंगे।

  • कभी भी अनजान एटीएम का इस्तेमाल ना करें। कोशिश करें कि जहां से आप हमेशा पैसे निकालते हैं उसी एटीएम में जाकर पैसे निकाले। नई स्थानों पर बने एटीएम कार्ड से पैसे निकालने से बचें।
  • जब भी आप किसी एटीएम मशीन से पैसे निकालने जाए तो सबसे पहले एटीएम रूम को ध्यान से देखें और चेक करें कि कहीं कोई कैमरा तो नहीं लगा है। साथ ही साथ डायल पैड को भी ध्यान से देखें। अगर आपको डायल पैड के साथ कोई छेड़छाड़ नजर आती है तो आप तुरंत ही सावधान हो जाएं और कोशिश करें कि उस एटीएम से दूर चले जाएं।
  • दोस्तों जब भी आप एटीएम से पैसे निकालने जाए तो डायल पैड को ध्यान से देखिए। यदि आपको दिखाई देकर डायल पैड सामान्य से थोड़ा ऊपर है तो आप उसे ऊपर पकड़ कर खींच ले। यदि खींचने पर वह उखड़ जाएगा तो समझ जाएगी यह हैकर के द्वारा लगाई गई लेयर है।
  • बहुत सारे हैकर एटीएम के अंदर जाकर एटीएम मशीन में लगे कैंसल बटन को जाम कर देते हैं जिससे आप पासवर्ड इंटर करने के बाद पासवर्ड को कैंसिल नहीं कर पाते और आपका पासवर्ड स्क्रीन पर सेव रहता है। इसलिए जब भी आप एटीएम से पैसे निकाले तो कैंसिल बटन को सबसे पहले चेक कर लें। यदि कैंसल बटन जाम है तो उसे कभी भी उस एटीएम से पैसे न निकाले ।
  • यदि एक एटीएम रूम के अंदर आपके अलावा कोई दूसरा व्यक्ति भी आए तो आप पर थोड़ी देर इंतजार कर ले और उसके सामने एटीएम का इस्तेमाल ना करें। यदि वह आपसे हेल्प करने के लिए कहे तो भी आप उसकी हेल्प ना लें।
  • किसी भी स्थान पर किसी भी एटीएम मशीन में जब भी आप अपना एटीएम नंबर दर्ज करें तो उसे अपने हाथों से ढक कर दर्ज करें ताकि अगर कोई कैमरा भी लगा हो तो वह भी आपका नंबर ना देख पाए।
  • दोस्तों बहुत से एटीएम ऐसे होते हैं जहां पर ढेर सारे यूजर प्रतिदिन पैसे निकालने के लिए आते हैं। ऐसे एटीएम में इतनी अधिक भीड़ होती है कि लोग छोटे-छोटे चीजों को नोटिस नहीं करते हैं। जिस वजह से हैकर को मौका मिल जाता है और वह एटीएम क्लोनिंग कर लेते हैं। इसीलिए कोशिश करें कि भीड़भाड़ वाले एटीएम से बचें।

निष्कर्ष

यह आपके लिए कुछ सुरक्षा उपाय थे। इन सुरक्षा उपाय को फॉलो करके आप अपने एटीएम क्लोनिंग को रोक सकते हैं। आज के लिए बस इतना ही। आज यह जानकारी यहीं पर समाप्त होती है। आज इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि एटीएम क्लोनिंग क्या है?  एटीएम क्लोनिंग कैसे की जाती है और एटीएम क्लोनिंग होने से कैसे बचें? हमें उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। हम आपके लिए अनेक प्रकार की जानकारियां लेकर आते रहते हैं। अगर आप किसी प्रकार की अन्य जानकारियों पाना चाहते हैं तो हमारा आर्टिकल प्रतिदिन पढ़िए। अपना कीमती समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*